वेबसाइट क्या होती है और क्या है इसकी परिभाषा

वेबसाइट क्या होती है

आज के मॉडर्न ज़माने और इंटरनेट के दौर में हममें से बहुत सारे लोगों के लिए इंटरनेट पर ईमेल चेक करना, किसी वेबसाइट पर कोई आर्टिकल पढ़ना या वीडियो देखना आम बात हो गयी है पर यदि पूछा जाए कि वेबसाइट असल में होती क्या है तो हममें से ही बहुत सारे लोगों को विस्तार से इसके बारे में नहीं पता होगा।

तो आइये, जान लेते हैं वेबसाइट के बारे में विस्तार से।

वेबसाइट की परिभाषा क्या हैं?

इसे परिभाषित करें तो आप कह सकते हैं कि वेबसाइट कई सारे वेबपेजों और संबंधित सामग्री को एक जगह मिलाकर बनाया गया एक संग्रह है जिसे एक सामान्य डोमेन नाम से पहचाना जाता है और जो वर्ल्ड वाइड वेब यानि www के कम से कम किसी एक सर्वर पर पब्लिश किया जाता है [विकिपीडिया]। इस के सबसे अच्छे उदाहरण wikipedia.org, google.com और amazon.com हैं।

इसकी अन्य अच्छी परिभाषा जिससे आपको समझने में मदद मिलेगी, वो dictionary.com पर दी गयी है और हम इसे भी आपके समझने के लिए आपके साथ साझा कर रहे हैं। dictionary.com के अनुसार, वेबसाइट इंटरनेट पर किसी कंपनी, संस्‍था आदि का सूचना-केंद्र (वर्ल्ड वाइड वेब—विश्‍वव्‍यापी जाल—पर उपलब्‍ध) है।

वेबसाइट क्या होती है 

सरल शब्दों में कहें तो वेबसाइट से पहले आप वेबपेज को समझें क्योंकि वेबसाइट इन्हीं वेबपेजों का संग्रह होती है। इंटरनेट पर कोई भी चीज़ खोलने या देखने के लिए वेब ब्राउज़र बनाया गया है और ब्राउज़र जिस भाषा को समझता है उसे कहते हैं html भाषा।

आप वेबपेज को एक पन्ने के जैसा समझ सकते हैं और वेबसाइट को पूरी किताब। जो भी लिखित सूचना, ऑडियो या वीडियो सामग्री, इसको प्रकाशित करने वाला अपने ग्राहकों या पाठकों को देना चाहता है, वो सब वेबपेज के अंदर html कोडिंग की भाषा में लिख दिए जाते हैं और ब्राउज़र जब उसको दिखाता है तो देखने वाले को वो html कोडिंग नहीं दिखती बल्कि सीधे वही आर्टिकल, फोटो या वीडियो दिख जाता है।

हर वेबसाइट का एक नाम होता है

हर वेबसाइट का वर्ल्ड वाइड वेब के किसी सर्वर पर एक नाम दिया गया होता है। जैसे उदहारण के लिए www.kviconline.gov.in भारत सरकार की उस वेबसाइट का नाम है जिस पर भारत के बहुत से परिवारों के लोग खादी प्रोडक्ट के अलावा ग्रोसरी की और अपनी रोज़मर्रा की जरुरत की सभी चीज़ें खरीदते हैं।

उस वेबसाइट पर सैकड़ों वेबपेज जुड़े हुए हैं, जैसे आप जब ब्राउज़र पर वेबसाइट का नाम टाइप करते हैं तो उस वेबसाइट का होमपेज खुलता है जो कि मेन पेज होता है, जिस पर बाकी सब प्रोडक्ट के वेबपेज लिंक्ड होते हैं। अब अगर आपने देखा कि वहाँ एक प्रोडक्ट पर डिस्काउंट लिखा है 50%, जब आप उस पर क्लिक करते हैं तो उस प्रोडक्ट का वेबपेज खुल जाता है।

ऐसे ही उस पर ढेरों प्रोडक्ट्स हैं और हर प्रोडक्ट का अपना एक वेबपेज है। इसी तरह जो मैगज़ीन वेबसाइटें होती हैं, जैसे yahoo.com, indiatimes.com, इत्यादि इन पर आप किसी न्यूज़ या आर्टिकल की हैडलाइन पर क्लिक करते हैं तो उस न्यूज़ या आर्टिकल का वेबपेज पूरा खुल जाता है और आप उसे अच्छे से पढ़ सकते हैं।

वेबसाइटों कितने प्रकार की होती हैं?

आजकल अलग-अलग प्रकार की वेबसाइटें बन चुकी हैं जिनकी लम्बी लिस्ट बन सकती है, परन्तु यहाँ हम आपको कुछ मुख्य प्रकार की वेबसाइटों के बारे में बताते हैं, जो सबसे ज़्यादा चलन में हैं।

1) मैगज़ीन/न्यूज़पेपर वेबसाइट:- इन वेबसाइटों पर आप न्यूज़ और पॉलिटिक्स, बॉलीवुड गॉसिप जैसी जानकारियाँ देख सकते हैं। ये पेपर पर प्रिंट होकर छपने वाली मैगज़ीन/न्यूज़पेपर के ही जैसी होती हैं बस फर्क ये है कि ये पेपर पर नहीं बल्कि आपके लैपटॉप/मोबाइल के ब्राउज़र पर खुलती हैं। इनके उदहारण jagran.com, timesofindia.com, इत्यादि।

2) कॉमर्स वेबसाइट:- इन वेबसाइटों पर आप अपनी रोज़मर्रा की ज़रूरत का सामान खरीद सकते हैं। आप किसी प्रोडक्ट पर क्लिक करके उसके बारे में विस्तार से देख सकते हैं और वेबसाइट पर ऑनलाइन पेमेंट भी कर सकते हैं। इस तरह की वेबसाइटों के सबसे अच्छे उदहारण हैं www.kviconline.gov.in, amazon.co.in, इत्यादि।

3) ब्लॉग:- ये किसी लेखक या विशेषज्ञ द्वारा उनके विचारों को पब्लिश करने की वेबसाइट होती है। कुछ लोग अपने यात्रा संस्मरण भी बताते हैं, जिसे ट्रैवेलॉग कहते हैं जो कि एक तरह का ब्लॉग ही है। इसके सबसे अच्छे उदहारण हैं हिंदी साहित्य के बेहतरीन ब्लॉग https://samalochan.blogspot.com, http://padhte-padhte.blogspot.com, इत्यादि।

4) सोशल मीडिया वेबसाइट:- सोशल मीडिया की वेबसाइट वह है जिस पर आप किसी से चैट यानि टाइप करके बात कर सकते हैं या आप अपने फोटो, विचार, इत्यादि अपने मित्रों और रिश्तेदारों से शेयर कर सकते हैं। इसके सबसे अच्छे उदहारण हैं facebook.com, web.whatsapp.com इत्यादि।

5) डायरेक्टरी या येलो पेजेज, गूगल मैप, इत्यादि:- इस तरह की वेबसाइट पर आप किसी एड्रेस की जानकारी और उस एड्रेस पर पहुँचने का पूरा रास्ता भी देख सकते हैं। इसके सबसे अच्छे उदहारण हैं, किसी कंपनी के एड्रेस की जानकारी के लिए https://www.justdial.com और रास्तों की जानकारी के लिए https://www.google.com/maps.

तो देखा आपने, इन वेबसाइटों के जरिए आप कितने सारे काम घर बैठे कर सकते हैं और जानकारियाँ भी हासिल कर सकते हैं। ज़रूरत पड़ने पर दवा, ग्रॉसरी और भी दूसरे लगभग सभी प्रोडक्ट्स घर बैठे आराम से मंगवा सकते हैं, जिनकी आपके घर पर कुछ ही दिनों में होम डिलीवरी हो जाती है। वेबसाइटों की इस बेहतरीन टेक्नोलॉजी ने त्वरित संचार (क्विक कम्युनिकेशन) के माध्यम से हमें एक-दूसरे के करीब लाकर हमारी दुनिया को छोटा और अधिक सुलभ बना दिया है।

सितंबर में पैदा हुए व्यक्तियों के प्रेम को समझ पाना बहुत मुश्किल है ओवरवेट Rashmi Desai ने सिर्फ वॉक करके घटाया अपना वज़न विद्या बालन ने अपनी अनेक फिल्मों में बोल्ड सीन दिये जो चर्चा में रहे