किस्मत की लकीरों को बदलने वाली नेहा कक्कड़

neha kakkarअभी हाल ही में आये मशहूर पॉप सिंगर यो यो हनी सिंह और नेहा कक्कड़ द्वारा गाये गये सॉन्ग मेरे ‘नॉटी सैंया जी’ को आज अधिकतर लोग पसंद कर रहे है। अपने अन्य फेमस सॉन्ग की तरह इस गीत को भी भूरी आँखो वाली ‘सेल्फी क्वीन’ नेहा कक्कड़ नेअपनी चुलबुली आवाज में गाने कोऔर भी खूबसूरत बना दिया है।

आज पूरा बॉलीवुड नेहा की आवाज के जादू से सम्मोहित हो चुका है। क्या आप जानते हैं कि नेहा कक्कड़ की इस शानदार कामयाबी के पीछे क्या राज है? वह कौन है जिसने नेहा कक्कड़ को जागरण के मंच से उठा कर मुंबई के रिकार्डिंग स्टूडियो तक पहुँचा दिया ?

आखिर कौन था नेहा कक्कड़ का गॉड फादर? जिसने नेहा कक्कड़ को चमकता सितारा बना दिया।आइये जानते हैं वह अंदर की बात जिसके कारण नेहा कक्कड़ के रास्ते की हर मुश्किलें आसान होती चलीं गयीं उसे मिल गयी अपनी मंजिल की राह।

Neha-Kakkarनेहा कक्कड़ का बचपन कठिनाइयों से भरा हुआ था

पिता की एक छोटी सी दुकान थी। उस दुकान की कम आमदनी से घर का खर्च बहुत मुश्किल से चल पाता था। नेहा कक्कड़ की बड़ी बहन सोनू कक्कड़ को गाने का बहुत शौक था । उसका संपर्क देवी माँ का जागरण करने वाली एक पार्टी से हो गया। जिसमें सोनू माँ के भजन गाने लगी।

इस जागरण का मंच मिलने से नेहा कक्कड़ की बड़ी बहन को दो लाभ हुये। पहला फायदा यह कि उसका शौक पूरा हो गया था। दूसरा लाभ यह की कुछ रुपये मिल जाते थे। जिससे परिवार को सहूलियत हो जाती थी। अपनी बड़ी बहन को जागरण के मंच पर गाता देख नेहा कक्कड़ ने भी देवी स्तुति गाने का निर्णय लिया।

यह वह समय था जब नेहा कक्कड़ की आयु केवल चार वर्ष की थी। लोग जागरण के मंच पर इतनी छोटी बच्ची को इतना सुरीला गाता देख उसे माता रानी का स्वरूप ही मानते थे। नेहा के घर का पूरा वातावरण गीत-संगीत से गूंजता रहता था।

कमाल की बात यह कि कक्कड़ परिवार की दोनों बेटियाँ और एक भाई तीनों की मधुर आवाजों से पूरा वातावरण देवीमय रहता था। उनके कर्ण प्रिय स्वर सुनकर लोग बाग यही कहते कि इस घर में माँ सरस्वती का वास है। उन भाई बहनों को सुनने वाला यही कहता था एक न एक दिन देवी माँ इन भाई बहनों की पुकार जरूर सुनेंगी।

neha kakkarनेहा कक्कड़ को उम्र कितनी है 

आखिरकार वह दिन आ गया जब नेहा कक्कड़ को वर्ष 2006 में इंडियन आइडल के ऑडीशन के लिए बुलाया गया। उस समय नेहा की उम्र 16 वर्ष की थी। लेकिन अभी मंजिल दूर थी। साल 1990 में जन्मी नेहा कक्कड़ की उम्र अभी 31 वर्ष है। नेहा कक्कड़ ने अपनी 4 वर्ष की उम्र से लेकर 16 साल तक भजन ही गाये थे इसलिए उसे इंडियन आइडल में वह सफलता नहीं मिली जो उसे मिलनी चाहिए थी।

लेकिन नेहा कक्कड़ ने हिम्मत नहीं हारी। वह जी जान से अपनी प्रतिभा को निखारने में जुट गयी। क्योंकि उसे इंडियन आइडियल के जज की कुर्सी तक जो पहुँचना था। जब भी नेहा कक्कड़ से यह प्रश्न पूछा जाता है कि उसकी असफलता से सफलता तक सफर कैसा रहा? तो वह मुस्कुराकर कहती हैं बहुत खूबसूरत।

क्योंकि अपने संघर्ष के रास्ते को आसान बनाने वाली एक ताकत थी नेहा कक्कड़ के पास। जब भी उसके रास्ते कठिन होते तो वह माता रानी का स्मरण करतीं, जिनकी स्तुति उन्होंने 12वर्षों तक गाई। माता रानी उनकी हर बाधा को दूर कर देतीं हैं। वह देवी माँ की कृपा ही थी जिसने नेहा कक्कड़ को बुलंदियों तक पहुँचा दिया।

नेहा कक्कड़ का पसंदीदा गीत कौन सा है 

नेहा कक्कड़ का गाया पहला गीत ‘दायें लगे कभी बायें लगे’ है। नेहा कक्कड़ अपना पसंदीदा गीत ‘मिले हो तुम हमको बड़े नसीबों से’ है। उस समय यह गीत भारत का वह इकलौता गीत था जिसे 100 करोड़ व्यूज मिले थे। एक पुरानी फिल्म का गीत नेहा कक्कड़ के दिल के बहुत करीब है उस गीत के बोल है ‘बदलेंगे दिन ये हमारे’, जिसे अलीशा चिनॉय ने गाया था।

नेहा कक्कड़ की लम्बाई कितनी है 

वास्तव में उनकी मेहनत के कारण उनके दिन बदल गये और उन्होंने अपनी किस्मत की लकीरों को बदल कर रख दिया। नेहा कक्कड़ को इंडियन आइडल का जज बनाकर सोनी टी. वी चैनल इस बात को लोगों को बताना चाहता है कि किसी की भी प्रबल इच्छा शक्ति उसे आसमान की ऊँचाइयों तक पहुँचा सकती है। चार फुट नौ इंच की नेहा कक्कड़ की शोहरत की ऊँचाई सात समंदर पार तक है।

नेहा कक्कड़ अपने द्वारा बनायी जाने वाली सेल्फी वीडियो को भी अपनी कामयाबी का राज मानती हैं। वह कहती हैं कि लोग पहले सेल्फी फोटो तो लेते थे। लेकिन सेल्फी वीडियो नहीं बनाते थे मैंने सेल्फी वीडियो बनाने का नया ट्रेंड शुरू किया।

बहुत भावुक हैं नेहा कक्कड़

वह कहती हैं कि मुझे प्रसिद्ध बनाने में सेल्फी वीडियो का भी बहुत बड़ा हाथ है। उनका कहना है कि जब लोग मेरे सेल्फी वीडियो देखते थे तो उनके मन में यह जिज्ञासा होती थी कि यह गाने वाली सुंदर लड़की कौन है? धीरे-धीरे नेहा कक्कड़ को लोग पहचाने लगे और पसंद करने लगे।

भावुक हृदय वाली नेहा कक्कड़ जो टी.वी पर आजकल इंडियन आइडल के जज के रूप में नजर आ रहीं हैं। वे अक्सर अपनी बचपन की कठिनाइयों से भरी जिंदगी के दिनों को याद कर रो पड़ती हैं। नेहा कक्कड़ जल्द ही किसी के दुखों को देखकर दुखी हो जाती हैं। वे किसी भी जरूरतमंद की सहायता के लिए हमेशा आगे रहती हैं। आज किसी भी गीत को गाने के लिए 10 से 15 लाख रुपये लेने वाली नेहा का दिल अनमोल है। जिसमें अपने फैंस के लिए गहरा प्यार छिपा है।

सितंबर में पैदा हुए व्यक्तियों के प्रेम को समझ पाना बहुत मुश्किल है ओवरवेट Rashmi Desai ने सिर्फ वॉक करके घटाया अपना वज़न विद्या बालन ने अपनी अनेक फिल्मों में बोल्ड सीन दिये जो चर्चा में रहे