कौन सा देश है हथियार बनाने के मामले में नंबर वन

कौन सा देश है हथियार बनाने के मामले में नंबर वनविश्व का हर देश अपनी सैन्य शक्ति को बढ़ाने में लगा हुआ है। कुछ देशों ने तो ऐसे-ऐसे हथियार बना लिए हैं जो इस धरती पर तबाही मचा सकते हैं, यहाँ तक की पूरी धरती को विनष्ट कर सकते हैं। अपने राष्ट्र को ताकतवर बनाने के लिये दुनिया के लगभग हर देश ने अपने पास हर तरह के आधुनिक हथियार विकसित कर लिये है।

आज विश्व के बहुत सारे देश विज्ञान के विनाशकारी उपयोग करने में बढ़-चढ़ कर हिस्सा ले रहें हैं। संसार के लगभग सभी देश आज खतरनाक से खतरनाक हथियारों बनाने के लिये अनुसंधान कर रहे हैं।

कुछ जानकारों का यह भी कहना है कि इस सबंध में वैज्ञानिक गुप-चुप रूप से एलियंस की सहायता भी ले रहे हैं। सच कुछ भी हो लेकिन यह कड़वी सच्चाई है कि इस पृथ्वी पर रहने वाले मानव ने कुछ ऐसे विध्वंसकारी अस्त्र-शस्त्र बना लिये है जिससे उसका अस्तित्व ही खतरे में आ चुका है।

आज देशों की आपसी रंजिश के चलते विभिन्न देशों में हथियारों को बनाने की होड़ सी लग गई है। हर राष्ट्र अपनी सुरक्षा के लिये भारी संख्या में हथियार बना रहा है। आज हम यह जानेंगे कि वह कौन सा देश है जो हथियारों के निर्माण में सबसे पहले स्थान पर है।

आप यह सोच रहे होंगे कि निश्चय ही वह देश अमेरिका ही होगा जो खतरनाक हथियारों को बनाने में नंबर वन होगा। लेकिन आपका यह सोचना बिल्कुल गलत है। एक अन्य देश है जो हथियार बनाने के मामले में अमेरिका से भी आगे है।

आइए हम आज यह जानते हैं कि आखिर वह कौन सा देश है जिसने पूरे संसार में सबसे अधिक हथियार बना लिये हैं? हम सभी यह जानते ही हैं कि वर्तमान युग में युद्ध में इस्तेमाल किए जाने वाला परमाणु बम एक खतरनाक बहुत हथियार है।

विश्व के ज्यादातर देश इसी परमाणु बम का अधिक से अधिक संख्या में निर्माण कर रहे हैं। यदि हम यह कहें आज की यह धरती परमाणु बम के बारूद के ढेर पर है तो गलत न होगा।

जब-जब यह परमाणु बम चला है तब-तब इस धरती और धरतीवासियों की तबाही हुई है। 6 अगस्त 1945 की एक घटना दिल दहलाने वाली है। जब अमेरिका ने जापान के हिरोशिमा और नागासाकी शहर पर परमाणु बम गिराया था, परमाणु बम के प्रभाव से लाखों की संख्या में इंसानो की लाशें बिछ गयीं और शहर के शहर तबाह हो गये। लेकिन मानव ने इस घटना से कोई सबक नहीं लिया बल्कि वह इस परमाणु बम को बनाने में बढ़ चढ़ कर हिस्सा लेने लगा।

इस खतरनाक परमाणु बम को बनाने वाले देशों के नामों को जानने के लिये हम निचले क्रम से ऊपर की ओर बढ़ेंगे। परमाणु बम बनाने में उत्तरी कोरिया सबसे निम्न स्थान पर है। उसके पास केवल 6 परमाणु बम है। इसके ऊपर देश हैं इजरायल, जिसके पास 80 परमाणु बम है। हमारा देश भारत अब तक 110 परमाणु बम बना चुका है।

हमारे देश से अधिक परमाणु बम पाकिस्तान के पास हैं। उसके पास इस समय 120 की संख्या में परमाणु बम मौजूद है। इसके ऊपर है ब्रिटेन, इसके द्वारा बनाये गये परमाणु बमों की संख्या 225 है।

जबकि चीन देश में 250 परमाणु बम आधिकारिक रूप से बताए जाते हैं। चीन के ऊपर है फ्रांस, जो दुनिया भर में परमाणु बम बनाने में तीसरे स्थान पर है।

इस देश के पास कुल 300 परमाणु बम है। परमाणु बमों की संख्या की लिस्ट में अमेरिका दूसरे स्थान पर है वह अब तक 7300 परमाणु बम बना चुका है।

जबकि रूस के पास इस समय 8000 से अधिक परमाणु बम है। इसलिए निष्कर्ष रूप में यह कहा जा सकता है कि इस समय हथियार रखने के मामले में रूस पहले स्थान पर है। जबकि अमेरिका दूसरे नंबर पर है।

यह रिपोर्ट वाशिंगटन के आर्म्स कंट्रोल एसोसिएशन की है। उनके अनुसार अमेरिका की तुलना में रूस के पास सबसे अधिक परमाणु बम है और वह दुनिया में हथियारों के मामले में नंबर वन स्थान पर है।

अमेरिका हथियारों को बनाने में पहले स्थान पर पहुंचने के लगातार प्रयास कर रहा है। उसके द्वारा हथियारों के निर्माण के बहुत सारा धन खर्च किया जा रहा है। यह वह देश है जिसने दुनिया का सबसे खतरनाक हथियार हाइड्रोजन बम सबसे पहले बना लिया था।

सितंबर में पैदा हुए व्यक्तियों के प्रेम को समझ पाना बहुत मुश्किल है ओवरवेट Rashmi Desai ने सिर्फ वॉक करके घटाया अपना वज़न विद्या बालन ने अपनी अनेक फिल्मों में बोल्ड सीन दिये जो चर्चा में रहे