क्या आप आधार कार्ड से पैसे निकाल सकते हैं, अगर हाँ तो क्या है उसका पूरा तरीका

आज के जमाने में आधार कार्ड वह अलादीन का जिन्न है जो आपकी हर इच्छा पूरी करता है। क्या आप जानते हैं कि आधार कार्ड से पैसे तक निकाले जा सकते हैं। आप अपने आधार कार्ड का उपयोग ए टी एम कार्ड की तरह कर सकते हैं। ए टी एम कार्ड से पैसे निकालने के लिये कार्ड को ए टी एम मशीन में डालते हैं।

लेकिन आधार कार्ड से पैसे निकालने की प्रक्रिया में उसकी इन्फोर्मेशन दर्ज करी जाती है। लेकिन आधार कार्ड से पैसा वही व्यक्ति निकाल सकता है जिसका आधार कार्ड है। एटीएम कार्ड की तरह दूसरा कोई व्यक्ति आधार कार्ड से पैसा नहीं निकाल सकता।

भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण की ओर से जारी आधार कार्ड हमारा परिचय पत्र ही नहीं यह वह महत्वपूर्ण प्रपत्र है जो हमारे बैंक एकाउंट से पैसे निकालने में भी हमारी सहायता करता है। एक एटीएम मशीन की तरह ही काम करने वाली अलग तरह की मशीन है जिसे हम माइक्रो एटीएम के नाम से जानते हैं। यह मशीन ही हमें आधार कार्ड के माध्यम से पैसा निकालने में सहायता करती है।

माइक्रो ए टी एम क्या है?

swipe machine की तरह दिखने वाली माइक्रो एटीएम मशीन एटीएम की तरह ही काम करती है। लेकिन इसका प्रयोग करने में इसका प्रोसेस थोड़ा लंबा है लेकिन पूर्ण सुरक्षित है। इस मशीन का निर्माण नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (एनपीसीआई) के द्वारा किया गया है। इस मशीन के निर्माण के पीछे यही उद्देश्य रहा है कि ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले ग्राम वासियों को एटीएम की तरह सुविधा प्रदान की जाये।

माइक्रो एटीएम कैसे काम करती है?

माइक्रो एटीएम के माध्यम से आप पैसे तभी निकाल सकते हैं जब आपका आधार नंबर आपकी बैंक के अकाउंट से जुड़ा हुआ हो। आइए जानते हैं कि माइक्रो एटीएम से पैसे निकालने की पूरी प्रक्रिया क्या है?

सर्वप्रथम अपना आधार नंबर प्रविष्ट करते हैं

माइक्रो एटीएम सबसे पहले आप का आधार नंबर पूछता है। इसको आप अपने आधार कार्ड से देखकर बिल्कुल सही-सही नंबर डालते हैं। एक अंक भी गलत हो जाने की दशा में पैसे निकलने की संभावना नहीं रहती इसलिए आधार नंबर के लिए बटन दबाते समय पूरी सजगता बरतें।

अपनी फिंगरप्रिंट्स वेरीफिकेशन करायें

इसके बाद माइक्रो एटीएम आपसे आपकी अंगुलियों या अंगूठे की छाप लगाने के लिये कहेगा। इस प्रक्रिया के द्वारा माइक्रो एटीएम यह जान लेता है कि यह आधार कार्ड आपका ही है किसी अन्य व्यक्ति का नहीं। बिना फिंगर प्रिंट्स वेरीफिकेशन के प्रोसेस आगे नहीं बढ़ेगा। इसलिए आधार कार्ड से पैसे निकालने में कभी फ्रॉड नहीं हो सकता। दूसरे शब्दों में कोई अन्य व्यक्ति आपके आधार कार्ड से पैसा नहीं निकाल सकता।

बैंक का चुनाव करें

आधार नंबर से जुड़े हुए आपके एक या अनेक जितने भी बैंक अकाउंट होंगे उन सबकी डिटेल स्क्रीन पर नजर आने लगेगी। प्रोसेस में माइक्रो एटीएम मशीन आपसे पूछती है कि आपको किस बैंक से पैसे निकालने या ट्रांसफर करने हैं।

ऐसी दशा में आपको किसी एक बैंक का चयन करना होगा। उदाहरण के लिये आपका स्टेट बैंक ऑफ इन्डिया, इलाहाबाद बैंक और पंजाब एंड सिंध बैंक तीनों में अकाउंट है। तो ऐसी दशा में जिससे पैसे निकालने हैं उसी बैंक का नाम क्लिक कीजिये।

पैसे निकालने हैं या ट्रांसफर करने हैं?

इसके बाद माइक्रो एटीएम मशीन आपसे पूछती है कि आपको अपने अकाउंट से से निकालने है या अन्य किसी अकाउंट में ट्रांसफर करने हैं। आपको दोनों ऑप्शन में से एक ऑप्शन चुनना होगा। withdrawal या मनी ट्रांसफर में से एक को चुनने के पश्चात प्रोसेस आगे बढ़ेगा।

आवश्यक धनराशि की प्रविष्टि

उसके बाद आपके द्वारा जो धनराशि निकाली जानी है या ट्रांसफर करनी है उसे बताना होगा। अमाउंट क्लिक करते ही आपको आपके पैसे प्राप्त हो जाते हैं।

कभी-कभी लोगों के मन में यह सवाल आता है कि आधार कार्ड खो जाने जाने पर क्या कोई उसका दुरुपयोग कर सकता है। तो हम आपको बता दें कि नहीं यह कदापि संभव नहीं है। क्योंकि जिस व्यक्ति का आधार कार्ड है उसी के फिंगरप्रिंट से आधार कार्ड का उपयोग किया जा सकता है।

किसी अन्य का फिंगरप्रिंट मैच न करने की दशा में उससे धनराशि नहीं निकाली जा सकती। लेकिन कभी आधार कार्ड खो जाने पर उसकी जानकारी पुलिस थाने में अवश्य कर दें ताकि उससे भविष्य में होने बाले जोखिमों से बचा जा सके।

सितंबर में पैदा हुए व्यक्तियों के प्रेम को समझ पाना बहुत मुश्किल है ओवरवेट Rashmi Desai ने सिर्फ वॉक करके घटाया अपना वज़न विद्या बालन ने अपनी अनेक फिल्मों में बोल्ड सीन दिये जो चर्चा में रहे