जानिए आप पैन कार्ड कैसे बनवा सकते हैं

जानिए आप पैन कार्ड कैसे बनवा सकते हैंपैन कार्ड (PAN CARD) क्या होता है?

एक होता है पेन, जिससे हम लिखा करते हैं इसकी स्पेलिंग होती है PEN, दूसरा होता है पैन जिसकी स्पेलिंग होती है PAN। इसका Full Form होता है:- Permanent Account Number, जिसका हिंदी में अर्थ है स्थाई खाता संख्या, जो भारत सरकार के आयकर विभाग द्वारा जारी किया जाता है। यह नंबर हमें एक कार्ड के रूप में प्राप्त होता है।

जिसमें हमारा नाम, जन्मतिथि, पिता का नाम और हस्ताक्षर आदि अंकित होता है। दूसरे शब्दों में कहा जा सकता है कि पैन कार्ड एक महत्वपूर्ण पहचान पत्र है जो भारत सरकार के आयकर विभाग द्वारा जारी किया जाता है।

इस पहचान पत्र को आयकर विभाग ही नहीं बैंक, डाकघर, शेयर मार्केट, रजिस्ट्री ऑफिस आदि सभी पूरी मान्यता देते है। आप जहाँ भी रुपये-पैसे से संबंधित कार्य करते हैं वहीं इस डाक्यूमेंट अर्थात PAN CARD की आवश्यकता होती है।

पैन कार्ड का महत्व 

भारत सरकार का आयकर विभाग इस डाक्यूमेंट को अस्तित्व में क्यों लाया? PAN CARD जारी करने के पीछे गवर्नमेंट की की क्या मंशा रही। पैन कार्ड का हमारे लिये क्या महत्व है क्योंकि इसकी महत्ता जानकर ही हम इस पैन कार्ड को बनवाने लिये इच्छुक हो सकते हैं।

1.पहचान पत्र

पैन कार्ड आपका एक महत्वपूर्ण पहचान पत्र है। क्योंकि इस परिचय पत्र में हमारा नाम, पिता का नाम, जन्म तिथि आदि के साथ हमारा फोटो और हस्ताक्षर भी होता है। यह कार्ड आपके परिचय के प्रमाण के तौर पर काम आता है।

2.आयकर भुगतान के लिए आवश्यक प्रपत्र

यदि आप INCOME TAX का भुगतान करते हैं तो इसके लिए PAN CARD एक आवश्यक डॉक्यूमेंट है। इस दस्तावेज के बिना आयकर का भुगतान संभव ही नहीं है क्योंकि Income Tax Pay करने के साथ-साथ हमें अपना PAN (Permanent Account Number) भी देना होता हैं जो हमारे वित्तीय लेन-देन का पहचान नंबर है। Pan Card हमारा फाइनेंशियल इंट्रोडक्शन आय कर विभाग को देता है।

3.बैंक या पोस्ट ऑफिस आदि में अकाउंट खुलवाने के लिए आवश्यक प्रपत्र

यदि आप अपना अकाउंट बैंक या पोस्ट ऑफिस में खुलवाना चाहते हैं तो आधार कार्ड के साथ-साथ पैन कार्ड भी मांगा जाता है। क्योंकि वित्तीय लेनदेन पैन कार्ड के बिना संभव ही नहीं है।

यदि आपको 50, 000 या पचास हजार के ऊपर की धनराशि खाते में जमा करनी है या निकालनी हैं तो ऐसी दशा में भी पैन कार्ड आवश्यक होता है। क्योंकि उस समय form में Permanent Account Number (PAN) दर्ज करना होता है। जिसके बिना Transaction संभव नहीं है।

4.संपत्ति के बेचने-खरीदने के लिए

नये नियम के अनुसार जब आपके द्वारा किसी भी प्रॉपर्टी या शेयर आदि को खरीदा या बेचा जाता है तो ऐसी दशा में पैन कार्ड की आवश्यकता होती है। संपत्ति चल हो या अचल, दोनों ही स्थिति में आपके पैन कार्ड की मांग की जाती है। इसलिए यदि आपको किसी प्रॉपर्टी आदि को खरीदना या बेचना है तो अपना पैन कार्ड (Pan Card) अवश्य बनवा लें।

5.NRI के लिए आवश्यक डॉक्यूमेंट

यदि आप अनिवासी भारतीय हैं तो ऐसी स्थिति में आपका पैन कार्ड आपके बहुत काम आता है। यदि आप विदेश में रहने के बावजूद भारत में कोई संपत्ति खरीदना या बेचना चाहते हैं तो आपको पैन कार्ड की आवश्यकता होती है। यदि आप NRI होने की दशा में भारत में कोई व्यवसाय आरंभ करना चाहते हैं तो ऐसी स्थिति में में  पैन अनिवार्य है।

6.टैक्स (Tax) की चोरी पर नजर रखने वाला डॉक्यूमेंट

यह महत्वपूर्ण प्रपत्र हमारे वित्तीय लेन-देन का हिसाब-किताब रखता है। ऐसे में पैन कार्डधारी टैक्स की चोरी नहीं कर सकता। क्योंकि हर एक वित्तीय लेन-देन में उसे अपने पैन कार्ड का डिटेल्स भरना पड़ता है। लेकिन इसके बाद भी टैक्स की चोरी का यदि कोई केस पकड़ा जाता है तो उसके लिए दंड का प्रावधान है।

पैन कार्ड बनवाने के लिए होने वाला खर्च

कोई भी व्यक्ति जिसकी आयु 18 वर्ष से ऊपर है पैन कार्ड के लिए आवेदन कर सकता है। पैन कार्ड आवेदन शुल्क ₹93 (वस्तु एवं सेवा कर अलग से) निर्धारित है। जबकि विदेशी व्यक्तियों के लिए पैन शुल्क 864 रुपये (वस्तु एवं सेवा कर अलग से) निश्चित किया गया है। यदि आप पैन कार्ड के लिये आवेदन करते हैं तो इसकी फीस नेट बैंकिंग के माध्यम से या क्रेडिट कार्ड अथवा डेबिट कार्ड से पेमेंट कर सकते हैं।

पैन कार्ड बनवाने के लिए आवश्यक डाक्यूमेंट्स

पैन कार्ड जैसे महत्वपूर्ण पहचान पत्र को बनवाते समय अपने नाम, पिता का नाम, पता, जन्मतिथि आदि के साक्ष्य के लिये प्रमाण पत्र लगाने होते हैं। इसीलिए भारत सरकार के आयकर विभाग द्वारा जारी किये जाने वाले पैन कार्ड के आवेदन के लिए निम्नलिखित दस्तावेजों को तैयार रखें:-

1.कलर्ड पासपोर्ट साइज फोटो

अपने हाल ही में लिए हुए (Recent) पासपोर्ट साइज फोटो की आवश्यकता पैन कार्ड अप्लाई करते समय होती है। यह फोटो साफ और स्पष्ट होनी चाहिए तथा सनग्लासेस के साथ नहीं होनी चाहिए। पैन कार्ड के लिए आवेदन करते समय कलर फोटो ही लगायी जाती है। अप्लाई करते समय दो पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ की जरूरत होती है। अतः इसे तैयार रखें।

2.परिचय पत्र

आपको अपने परिचय पत्र की कॉपी अपलोड कर भेजनी होती है। इसके लिए नीचे दिए गए परिचय पत्रों में से किसी एक का उपयोग कर सकते हैं।
(a) राशन कार्ड, जिसमें आपका फोटो चस्पा हो (Ration Card)
(b) मतदाता पहचान पत्र (Voter Card)
(c) पासपोर्ट (Passport)
(d) ड्राइविंग लाइसेंस ( Driving License)
(e) पैंशन कार्ड (Pension Card)
(d) आधार कार्ड (Aadhar Card) आदि

3.आवासीय पते का प्रमाण पत्र (Address proof)

पैन कार्ड के लिये आवेदन करते समय आपको अपने रेजिडेंशियल ऐड्रेस का प्रूफ भी देना होता है । इसके लिए आप नीचे दिए गए प्रमाणों में से कोई एक लगा सकते हैं-

(a) बिजली का बिल
(b)आधार कार्ड
(( ) ड्राइविंग लाइसेंस
(d) राशन कार्ड
( e) बैंक पासबुक आदि

पैन कार्ड के लिए ऑफलाइन आवेदन भी कर सकते हैं

सबसे पहले हम  इनकम टेक्स की वेबसाइट  https://www.tin-nsdl.com/downloads/pan/download/Form_49A.PDF  से फॉर्म 49a का प्रिंट निकाल लेते हैं। यह वह फार्म है जो पैन कार्ड के आवेदन के लिए भरा जाता है। यह ध्यान रखें कि पैन कार्ड के लिये आवेदन पत्र काली स्याही वाले बॉल पेन से ही साफ-साफ भरा जाना चाहिए।

आवेदन पत्र भरकर उसमें एक पासपोर्ट साइज फोटो चस्पा करना और एक पासपोर्ट साइज फोटो संलग्न करना है। इसके बाद आपको अपने पहचान एवं पते के प्रमाण के लिए आवश्यक दस्तावेज संलग्न करना होता है।

जिन दस्तावेजों को आप फॉर्म के साथ संलग्न करें, उसको सेल्फ अटेस्टेड अवश्य कर दें। फॉर्म 49a भली-भांति भरने के पश्चात आवश्यक प्रपत्र लगाने के बाद उसे संबंधित कार्यालय में जमा कर दिया जाना चाहिए अथवा नीचे दिये हुये एड्रेस पर डाक से भेज दें-

NSDl, Income Tax Pan Services Unit
National Securities Depository limited
3rd Floor, Sapphire Chambers
Near Baner Telephone Exchange
Baner.
PUNE 411045 (Maharastra)

PAN CARD के लिये आवेदन करने का ऑनलाइन तरीका

अपने पैन कार्ड के लिये online माध्यम से आवेदन करना अब बहुत आसान हो गया है। यह काम अब आप मिनटों में कर सकते हैं। बस आवेदन करते समय आवश्यक डाक्यूमेंट्स अपने साथ रखें।

  1. सर्वप्रथम आप NSDL की वेबसाइट पर जायें। इसके लिये आपको https://www.onlineservices.nsdl.com/ लिंक पर जाते ही आपको कई विकल्प नजर आयेंगे। जिसमें से आपको Apply online पर क्लिक करना होगा।
  2. आपको अनेक फॉर्म में से 49 A सेलेक्ट करना होगा, जो पैन कार्ड के आवेदन के लिये निश्चित किया गया है। इसमें आपको अपने से संबंधित सारी जानकारी देनी होगी। यदि आप विदेशी नागरिक है तो ऐसी स्थिति में आपको फॉर्म 49AA भरना होगा। फॉर्म 49a में पूछी गई सारी डिटेल्स जैसे नेम, डेट ऑफ बर्थ, एड्रेस और मोबाइल नंबर आदि भरकर दोबारा चेक कर लें।
  3. फॉर्म में भरे जाने वाले परिचय एवं पते के प्रमाण के लिए अपने प्रूफ को स्कैन करके फॉर्म के साथ अपलोड करें।
  4. ऑनलाइन आवेदन करते समय आपसे आपके जिले AO कोड पूछा जाता है। जिसे आपको पता कर सही-सही भरना होता है।
  5. इसके बाद पैन कार्ड के लिए आवश्यक fee pay सुनिश्चित करें। जिसका आप ऑनलाइन भुगतान कर सकते हैं।
  6. तत्पश्चात आप भरे हुए फॉर्म का प्रिंट निकालिए और उसमें दो पासपोर्ट साइज फोटो चस्पा कर अपने सिग्नेचर कर दें। फॉर्म में वही हस्ताक्षर किये जाने चाहिए जो आप सदैव करते हो क्योंकि आपके हस्ताक्षर ही आपकी पहचान है।
  7. Form 49 a को पूरी तरह fill करने के पश्चात उसे सेंड कर दे। ताकि जल्दी-जल्दी से आपका पैन कार्ड मिल सके।

पैन कार्ड बनने में लगने वाला समय

पैन कार्ड के लिए आवेदन करने के पश्चात आपके मन में यह जिज्ञासा रहती है कि मेरा पैन कार्ड कितने दिनों में बनकर तैयार हो जायेगा और किस तरह मुझे मिलेगा। इस संबंध में आयकर विभाग का यह दिशा निर्देश है कि 15 से 20 दिनों के अंदर आपका पैन कार्ड बनकर तैयार हो जायेगा।

आप अपने रिफरेंस नंबर से भी अपने पैन कार्ड का स्टेटस चेक कर सकते हैं। यह पैन कार्ड आपके उसी पते पर डाक द्वारा पहुंचता है जिस पते को आपने अपने आवेदन में भरा हैं। अधिकांश रूप से आधार कार्ड का पता ही मान्य होता है।

सितंबर में पैदा हुए व्यक्तियों के प्रेम को समझ पाना बहुत मुश्किल है ओवरवेट Rashmi Desai ने सिर्फ वॉक करके घटाया अपना वज़न विद्या बालन ने अपनी अनेक फिल्मों में बोल्ड सीन दिये जो चर्चा में रहे