जानिए बिना डाक्यूमेंट्स के कैसे बनवाए आधार कार्ड

जानिए बिना डाक्यूमेंट्स कैसे बनवाए आधार कार्ड

भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) का उद्देश्य यह है कि देश के हर नागरिक के पास अपना आधार कार्ड अवश्य हो। इसलिए आधार कार्ड बनवाने की अनिवार्यता सभी के लिए कर दी गयी है।

पहचान पत्र (ID) और एड्रेस प्रूफ (Address Proof) न होने की दशा में भी आधार कार्ड बनवाने की व्यवस्था की गई है। जिसका लाभ उठा कर आप बिना डाक्यूमेंट्स के आधार कार्ड बनवा सकते हैं।

यदि आप उनमें से एक व्यक्ति हैं जिनके पास अपना पहचान पत्र और एड्रेस प्रूफ नहीं है तो जानिए की बिना इन डाक्यूमेंट्स के आधार पर आधार कार्ड किस प्रकार बनवाया जा सकता है। बिना ज़रूरी डाक्यूमेंट्स के आधार कार्ड बनवाने की दो प्रमुख तरीके हैं।

पहला यह है़ कि यदि आपके घर के पिता या माता अथवा अभिभावक का आधार कार्ड बना हुआ है तो ऐसी दशा में अपना उनसे परिवारिक संबंध का रिफरेंस देते हुए आधार कार्ड के लिए एनरोलमेंट कराया जा सकता है़।

इसके लिए आधार केंद्र आपसे आपके परिवारिक संबंधों का कोई प्रूफ माँग सकता है, जैसे राशन कार्ड आदि। ताकि यह यह पता चल सके कि वास्तव में आप उनके ही बेटे या बेटी हैं जिनका नाम आपने अपनी जानकारी देने वाले फॉर्म में भरा है। इसके लिए यदि आप विद्यार्थी हैं तो स्कूल, कॉलेज से जो परिचय पत्र मिला है उसे दिखा सकते हैं।

जिस पर आपके माता-पिता अथवा अभिभावक का नाम लिखा होता है़। यदि वह परिचय पत्र भी आपके पास नहीं है तो भी बिना रुकावट आधार कार्ड बन सकता है। इसके लिए आपके घर पूछताछ की जा सकती है। कभी-कभी तो इन सारी औपचारिकताओं के बिना ही यदि आपके माता-पिता या अभिभावक का आधार कार्ड बना है तो उसी के आधार पर आधार कार्ड बन जाता है।

इसके लिये आपके माता या पिता अथवा अभिभावक जिनका आधार कार्ड बना है उनको उस व्यक्ति के साथ आधार केंद्र जाना होना होता है जिसका की आधार कार्ड बनना है़। क्योंकि घर के उस मुखिया द्वारा आवेदक की संपूर्ण जानकारी के लिये जमा किये जाने वाले फार्म पर हस्ताक्षर करना होता है।

दूसरा तरीका यह है कि जब आपके घर के मुखिया का भी आधार कार्ड नहीं बना हुआ है या ऐसा कोई व्यक्ति नहीं है़ जो आपका परिचय दे सके तो ऐसी दशा में आप अपने नजदीकी आधार केंद्र पर नियुक्त इंट्रोड्यूसर की सहायता से आप अपने आधार कार्ड के लिए आवेदन कर सकते हैं।

यह इंट्रोड्यूसर भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) के क्षेत्रीय कार्यालय द्वारा नियुक्त किये जाते हैं। लेकिन इस दशा में यह आवश्यक है कि जो व्यक्ति आपको इंट्रोड्यूस करा रहा हो उसके पास अपना आधार कार्ड अवश्य हो। जो कि अधिकतर होता ही है।

बिना डाक्यूमेंट्स के आधार कार्ड बनवाने के लिए जब आप आधार केंद्र जाते हैं। तो आपका यह इंट्रोड्यूसर आपके साथ उपस्थित होता है। वह इंट्रोड्यूसर अर्थात आपका परिचय देने वाला व्यक्ति भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण के द्वारा प्रदत्त आवेदक की जानकारियों के फॉर्म पर आपके लिए हस्ताक्षर करता है। बाद में आप तथा आपके एड्रेस का सत्यापन किया जाता है और 3 माह के अंदर आपका अपना आधार कार्ड प्राप्त हो जाता है।

सितंबर में पैदा हुए व्यक्तियों के प्रेम को समझ पाना बहुत मुश्किल है ओवरवेट Rashmi Desai ने सिर्फ वॉक करके घटाया अपना वज़न विद्या बालन ने अपनी अनेक फिल्मों में बोल्ड सीन दिये जो चर्चा में रहे